B R Ambedkar Short Biography – डॉ. अंबेडकर जीवन परिचय

B R Ambedkar Short Biography In Hindi डॉ. भीमराव अंबेडकर का जीवन परिचय श्री डॉ. भीमराव अंबेडकर जी के बारे में पूरी जानकारी आज की पोस्ट में हम आपको देंगे।

B R Ambedkar Short Biography

 B R Ambedkar Short Biography – जीवन परिचय 

डॉ० भीमराव का जन्म 14 अप्रैल 1891 को मध्यप्रदेश के महू जिले में हुआ। आरम्बिक शिक्षा उन्होंने भारत मे प्राप्त की। क्योंकि उनका जन्म एक गरीब परिवार में हुआ था, इसलिए उन्हें आजीवन हिंदू धर्म की वर्ण-व्यवथा तथा भारतीय समाज की जाति व्यवस्था के विरुद्ध लंबा संघर्ष करना पड़ा।

बड़ौदा नरेश के प्रोत्साहन पर वे पहले उच्चत्तर शिक्षा के लिए न्यूयॉर्क गए। बाद में लंदन चले गए। उन्होंने वैदिक साहित्य को अनुवाद के माध्यम से पड़ा और समाजिक क्षेत्र में मौलिक कार्य किया।

परिणामस्वरूप वे एक इतिहास-मीमांसक,विधिवेता, अर्थशास्त्री, समाजशास्त्री, शिक्षाविद् तथा धर्म-दर्शन के व्याख्याता बनकर उभरे। कुछ समय तक उन्होंने अपने देश में वकालत की और अछूतो, स्त्रियों तथा मजदूरों को मानवीय अधिकार तथा सम्मान दिलाने के लिए लंबा संघर्ष किया।

संजय दलित होने के कारण उन्हें सामाजिक समता पाने के लिए भी लंबा संघर्ष करना पड़ा। भारत लोटकर उन्होंने कुछ पत्रिकाओं का प्रकाशन भी किया। अंबेडकर ने कानून की उपाधि प्राप्त करने के साथ ही विधि, अर्थशास्त्र व राजनीति विज्ञान में अपने अध्ययन और अनुसंधान के कारण कोलंबिया विश्वविद्यालय और लंदन स्कूल ऑफ इकनॉमिक्स से अनेक डिग्रियां भी प्राप्त की।

डॉ० अंबेडकर ने अपने चिंतन तथा रचनात्मक के लिए बुद्ध कबीर से प्रेरणा प्राप्त की। जातिवाद से संघर्ष करते हुए उनका हिंदू समाज से मोह-भंग हो गया। अतः14 अक्टूबर 1956 को अपने पांच लाख अनुयायियों के साथ वे बौद्ध धर्म के मतानयुयायी बन गए।

वे भारतीय संविधान के निर्माता था। यही कारण है कि उनको ‘भारत रत्न’ की उपाधि से समानित किया। 6 दिसम्बर,1956 को दिल्ली में इस महान समाजशास्त्री का देहांत हो गया।

dr b r ambedkar biography in hindi – प्रमुख रचनाएं 

“द कस्टम इन इंडिया”, “देयर मेकेनिज्म”, “जेनेसिस एंड डेवलपमेंट” (1917, प्रथम प्रकाशित कृति), “द अंटचेबलस”, “हु आर दे?” (1948), “हु आर दा शुद्राज” (1946), “भुधा एंड हिज धीमा” (1957), “थाट्स ऑन लिंगयुस्टिक स्टेटस” (1916), “द प्रॉब्लम ऑफ द रूपी ” (1923), “द अबोलूशन ऑफ प्रोमिशियम फायनांस इन व्रिटिश इंडिया”, (पीएच.डी. की थीसिस, (1916), “द राइज एंड फॉल ऑफ दा हिन्दू वीमेन” (1965), “एनिहिलेशन ऑफ कास्ट” (1936), “लेबर एंड पार्लियामेंट्री डेमोक्रेसी” (1943), “भुद्धिज्म एंड कम्युनिज्म” (1956), (पुस्तके व भाषण) मूक नायक”, “बहिष्कृत भारत”, ” जनता” (पत्रिका सम्पादन), हिंदी में उनका संपूर्ण वाड्मय भारत सरकार के कल्याण मंत्रालय से बाबा साहब आंबेडकर संपूर्ण वाड्मय नाम से 21 खंडो में प्रकाशित हो चुका है।

Dr b r ambedkar biography – साहित्यिक विशेषताएं

डॉ० भीमराव अंबेडकर लोकतांत्रिक शासन व्यवस्था के प्रबल समर्थक थे।उन्होंने अपने साहित्य के द्वारा भारतीय समाज में व्याप्त जाति प्रथा तथा छुआछूत का उन्मूलन करने का भरसक प्रयास किया। यही नहीं,उन्होंने जाती प्रथा का विरोध करते हुए समाज में व्याप्त शोषण का भी विरोध किया।

अछूतो के प्रति उनके मन में अत्यधिक सहानुभूति की भावना ने उनकी विचारधारा को अधिक प्रभावित किया। वस्तुतः वे इस प्रकार के लोकतंत्र की स्थापना करना चाहते थे जिसमें न तो जाति पाति का भेदभाव हो और न ही कोई छोटा बड़ा हो, बल्कि सभी समान हो।

यही कारण है कि उन्होंने अपनी रचनाओं में समकालीन समाज की विसंगतियों,विडंबनाओ, छुआछूत, जाती-प्रथा का यथार्थ वर्णन किया। प्रस्तुत निबंध ‘श्रम-विभाजन और जाति-प्रथा उनकी निबंध कला का श्रेष्ठ उदाहरण है जिसमें उन्होंने जाति-प्रथा जैसे विषय को स्वतन्त्रता, समता और भाईचारे से जोड़कर देखने का प्रयास किया है।

Biography of b r ambedkar – भाषा शैली 

डॉ० अंबेडकर ने अंग्रेजी तथा हिंदी दोनो भाषाओं में उच्च कोटि के साहित्य का निर्माण किया है। जहां तक हिंदी भाषा का प्रश्न है उसने उन्होंने तत्सम एंव तदभव शब्दों के अतिरिक्त उर्दू,फारसी तथा अंग्रेजी के शब्दों का भी सूंदर मिश्रण किया है। उनकी भाषा सहज, सरल तथा बोधगम्य है।

जहां कहीं वे गंभीर विषय का वर्णन करते हैं, वहां उनकी भाषा भी गंभीर बन जाती है। शब्द-चयन एंव वाक्य-विन्यास पूर्णतया भावनाकुल तथा प्रसंगनुकूल हैं। .

उन्होंने प्रायः विचारात्मक,वर्णात्मक,चित्रात्मक तथा व्यंग्यात्मक शैलीयो का प्रयोग किया है। जहां कहीं वे समाजिक विसंगतियों का खंडन करते हैं, वहां उनका व्यंग्य तीखा और चुभने वाला बन गया है।

ये भी पढ़े 


  1. Harivansh Rai Bachchan 
  2. krishna Sobti in Hindi – Krishna Sobti Biography in Hindi
  3. Premchand Ka Jivan Parichay – मुंशी प्रेमचंद का जीवन परिचय
  4. Hazari Prasad Dwivedi – हजारी प्रसाद द्विवेदी का जीवन परिचय
  5. Phanishwar Nath Renu – फणीश्वर नाथ रेणु जीवन परिचय
  6. Rabindranath Tagore in hindi रबिन्द्रनाथ टैगोर का जीवन परिचय
  7. Rahim Das Biography in hindi रहीम दास जी का जीवन परिचय


दोस्तों आपको B R Ambedkar Short Biography – डॉ. अंबेडकर जीवन परिचय ये पोस्ट कैसी लगी। नीचे Comment box में Comment करके अपने विचार हमसे अवश्य साझा करें। और आपका 1 कमेंट हमें लिखने को  प्रोत्साहित करता और हमारा जोश बढ़ाता है।

 हमें बहुत ख़ुशी होगी। इस Post को अपने दोस्तों के साथ Share ज़रूर करें। जैसे की Facebook, Twitter, linkedin और Pinterest इत्यादि। गर आपके पास कोई लेख है तो

आप हमें Send कर सकते है। हमारी Email id: radarhindi.net@gmail.com है। Right Side में जो Bell Show हो रही है। उसे Subscribe कर लें। ताकि आपको समय-समय पर Update मिलता रहे।

Thanks For Reading

Leave a Comment