एक विचार आपकी जिंदगी बदल सकता है Motivational Story in Hindi

Motivational Kahani in Hindi  for life दोस्तों एक विचार आपकी जिंदगी बदल सकता है। अपको आज जो speech हम बताने जा रहे है Motivational Story in Hindi वो आपके life की Story को change कर देंगे।

Motivational Story in Hindi

Motivational Story in Hindi – एक विचार आपकी जिंदगी बदल सकता है।

short motivational story in hindi पुराणी कहावत है की कुम्हार मिटटी से कुछ बना रहा है एक कुम्हार मिट्टी से कुछ बना रहा है उसके हाथ गुथे हुए हैं। मिट्टी उसके हाथों में लेपी हुई है। उसकी पत्नी आके पूछती है तुम यह क्या बना रहे हो। तो कुम्हार बड़े प्यार से सर उठाता है और बीवी को जवाब देता है चिलम

बना रहा हूं आजकल बड़े फैशन में हैं। खूब बिकेंगी पत्नी ने बोला अरे पागल चिलम बना रहे हो, सुराही क्यों नहीं बनाते गर्मियां आने वाली है सुराही भी खूब बिकेगी। कुम्हार ने बोला बात तो ठीक है कुम्हार ने मिट्टी छोड़ दी। दोबारा गूँथना शुरू किया और अब मिट्टी को आकार

देना शुरू किया, किस चीज का ? सुराही का अब जब मिट्टी को सुराही का देना शुरू किया तो कहते हैं। मिट्टी में से आवाज़ आईं ये क्या करता है पहले तो कुछ और रूप दे रहा था अब कुछ और रूप दे रहा है। कुम्हार का जवाब सुनिए साथ लेके जाएगा आज कुमार कहता है विचार

बदल गया मेरा मिट्टी का जवाब सुनिए मिट्टी बोलती है तेरा तो विचार बदला गया मेरी तो जिंदगी ही बदल गई।तेरा विचार बदला मेरी जिंदगी बदल गई अगर चिलम बनती तो आग भरी जाती खुद भी जलती दुनिया को भी जलाती।

अब सुराही बनी हू तो जल भरा जाएगा खुद भी शीतल रहूंगी दुनिया को भी ठंडा रखूंगी। विचार बदल गया सर क्या बदल गया एक विचार आपकी जिंदगी में भूचाल ला सकता है।

motivational story in hindi for students – ज़िंदगी बदल दे एक विचार

मैं आपको बताना चाहूंगा सर वाल्ट डिज्नी को विचार आया है वह चूहे को देखते-देखते -बाल डिज्नी ने Disney Land बना दिया। चाय पी रहे थे बेसमेंट के अंदर चाय पी रहे थे। बेसमेंट में चुस्की ले ले लेकर और चुस्की ले लेके जो कप वो सामने टेबल पर रखते थे। और पीछे चेयर के ऊपर ऐसा बैठे रहते थे।

एक चूहा आया नीचे कर्टन लगा हुआ था उस टेबल के ऊपर जिस टेबल के ऊपर कप रखा था। चूहा टेबल का लीफ पकड़ के ऊपर चढ़ा और बाल्टी डिजनी आराम से उसको देख रही थे  और चढ़ा सीधा कप पे आया कप के ऊपर चढ़ा अंदर गया सीप मारा नीचे उतरा, टेबल से नीचे उतर, गया अब डिजनी देख रहे हैं। 

साहब अभी यके इंतजार कर रहे हैं क्या दोबारा आएगा 15 सेकंड 20 सेकंड बाद चूहे का आगमन हुआ दोबारा फिर आया फ़ुर्र फ़ुर्र फ़ुर्र फिर कपड़ा पकड़ के ऊपर चढ़ा फिर टेबल पर गया। फिर कप में से अंदर कुदा, सिप मारा नीचे उतरा टेबल से नीचे उतरा, फ़ुर्रर फिर चला गया। अब डिजनी साहब कह रहे हैं कि दोबारा आएगा सोच रहे हैं

मन के अंदर 15, 20 सेकंड 30 सेकंड 40 सेकंड के बाद चूहा साहब फिर आया। फिर पैदल – पैदल गया फिर वह कपड़ा पकड़ के ऊपर चढ़ा फिर टेबल पे गया। फिर कप में झाँका अंदर से सिप किया फिर उतरा, फिर नीचे चला गया। ये घटना डिज्नी ने करीब – करोब अपनी आँखों के सामने 5 या 6 बार होते हुए देखी।

और डिज्नी को विचार आया डिज्नी को लगा अगर एक छोटे से चूहे ने मुझे कितना एंटरटेन किया है। पिछले 16 मिनट के अंदर ये दुनिया को भी Entertainment कर सकता है। मिक्की Mouse बन गया सर। छोटी सी घटना A Small Incidence सिर्फ एक विचार आपकी जिंदगी में भूचाल ला सकता है।

 Change your thought and you can change.

motivational story in hindi for success

विचार बदल के दुनियाँ बदली जा सकती है। सर जीवन में कामयाब होने का दूसरा सूत्र मै आपको दे रहा हु। एक vichar आपकी ज़िंदगी में भूचाल लेके आ सकता है। 1000 लोगो को मारने के प्रण लिया अंगुलिमाल ने की मै 1000 लोगो को मार दूंगा ऐसी प्रतिज्ञा करता था राजा बिम्बिसार से उसका बेर था राजा बिम्बिसार ने उसका कुछ छीन लिया।

अंगुलिमाल डाकू उसका नाम बाद में पड़ा उसने प्रतिज्ञा की थी की मै 1000 लोगो को मार दूंगा 999 को उसने मार दिया। जिस पहाड़ी पे रहता था गांव वालो ने उस पहाड़ी में जाने का रास्ता बंद कर दिया था की कोई उस पहाड़ी पे जाएं नही। वहाँ पर बोर्ड लगाए गए यहाँ पर जाना निषेध है

यहाँ पर अंगुलिमाल रहता है ये 999 को मार चूका है। राजा खुद कांपता था। उसकी माँ कभी – कभी अंगुलिमाल को मिलने जाती थी। लेकिन जब उसने 999 को मार दिया तो माँ ने भी जाना बंद कर दिया की क्या पता ये मुझे भी मर दे अपनी प्रतिज्ञा पूरीकरने के लिए माँ ने भी जाना बंद कर दिया वहाँ सब काँपते थे पूरा का पूरा गांव अंगुलिमाल के नाम से डरता था।

1000 लॉगो को मारने का पर्ण अंगुलिमाल ने लिया फिर एक घटना घटी महात्मा बुद्ध वहाँ आए। महात्मा बुद्ध के साथ एक शिष्य था उसी रस्ते पे चले शिष्य ने बोला तथागत यहाँ जाना ठीक नहीं है यहाँ अंगुलिमाल रहता है। उसने 1000 लोगो को मारने का प्रण लिया 999 मार चूका है। आपका यहाँ जाना खतरे से ख़ाली नहीं है। रास्ता बदल दीजिए।

बुद्ध का जवाब पढ़ने का मजा आएगा बुद्ध ने कहा अगर तुम मुझे नहीं बताता तो  संभवत: मैं यहां से ना जाता लेकिन अब तूने मुझे बता दिया तो मैं यह रास्ता छोड़ने वाला नहीं हूं। उसको मेरी जरूरत है वह साधु ही क्या जो अपना रास्ता बदल दे मैं तो जाऊंगा तू चाहे तू लौट जा और बुद्ध उस रास्ते पर आगे बढ़ने लगे।

अंगुलिमाल ने  दूर से आते हुए बुद्ध को देखा कहानी पढ़िये बड़े ध्यान से आपकी जिंदगी में काम आएगी बुद्ध उस रास्ते पर आगे बढ़े अंगुलिमाल ने बुद्ध को आते हुए देखा। दूर से जब देखा तो बड़ा प्रसन्न हुआ कि आज मेरी प्रतिज्ञा पूरी होने का समय आ गया। एक 1000 वा वध करूंगा और अपनी प्रतिज्ञा पूरी करूंगा। उंगलियों की माला अपने गले में लटकाता था।

अंगुलिमाल और जैसे ही बुद्ध नजदीक आए क्या तेल, क्या मस्ती देख के उसके हाथ काँपने लगे। अंगुलिमाल ने बोला सन्यासी तू रुक जा हालांकि मुझे बड़ी खुशी हो रही है कि तुम मेरा हजारवा शिकार है। आज मेरी प्रतिज्ञा पूरी होने का समय है।लेकिन तू रुक तू आगे मत बढ़ क्योंकि उसका तेज़ अंगुलिमाल सहन नहीं कर सका। बुद्ध ने बोला डरता क्यों हैं ? किस से डरता हैं।

best motivational story in hindi

उसने बोला सभी बातें ठीक है मैं तुझे मार दूंगा उसने बोला तू भी क्षत्रिय है मैं भी क्षत्रिय हूं देखते हैं कौन किसका वध करता है। मार दे अंगुलिमाल ने बोला सन्यासी तू रुक। बुध बोला मैं तो 50 साल पहले रुक गया अब तू रुक जा मुझे ऐसा लगता है कि अंगुलिमाल के दिल में महाभारत से भी ज्यादा खतरनाक युद्ध छिड़ा होगा कि मैं मारूं या इसको ना मारूं।

क्योंकि वो बुद्ध का तेज़ देख के पागल हो गया और इतनी बात करतें-करतें बुद्ध अंगुलिमाल ने बोला तेरे को मार दूँगा। अंगुलिमाल बोला बुद्ध से तू लौट जा बुद्ध ने बोला मै तो तुझे लौटने आया हूँ। मार दे बोला तुझे डर नहीं लगता सन्यासी उसने बोला डर किस चीज़ का मार दे।लेकिन एक शर्त है तो अंगुलिमाल खंडवा रखता था मार दे।

अंगुलिमाल ने बोला शर्त क्या है उसने बोला पेड़ के ऊपर टहनी है उसको काट दे। पहले तो अंगुलिमाल ने वो खड़ंग उठाई और खाटक से टहनी के दो टुकड़े कर दिए। बुद्ध मन ही मन मुस्कराए की बात तो मान रहा है इस अवस्था में भी बात मान रहा है इसके परिवर्तित होने की संभावनाएं पूरी हैं अब जब टहनी कट गई बुद्ध ने बोला अब इस टहनी को फिर से जोड़ दें। 

अंगुलिमाल ने बोला सन्यासी पागल लगता है क्या जो कट गया वो जोड़ा थोड़ी जा सकता है। बुद्ध बोले में भी तेरे को यही कह रहा हूँ। काटना बहुत सरल है जोड़ना बहुत मुश्किल है। तूने 999 की काट दिया अब एक को जोड़ के बता।

अंगुलिमाल आसुओं से भर गया और गले में उंगलियों की माला बुद्ध के चरणों में डाल दी। बुद्ध पलट गए उससे बात नहीं की और ज़्यादा पलटे उनको पता था की मेरे पीछे आएगा। अंगुलिमाल बुद्ध के पीछे – पीछे – पीछे ‘बुद्ध शरण गच्छामि’ करता हुआ बुद्ध के पीछे हो लिया

विचार बदल गया और अंगुलिमाल की जिंदगी पूरी तरह से बदल गई। दोस्तों एक विचार आपकी ज़िंदगी बदलने के लिए काफ़ी है बुद्ध गाँव में आये और अंगुलिमाल को सन्यास दे दिया और वह सन्यासी हो गया राजा को जब पता चला तो राजा बहुत प्रसन्न हुआ की Finally Tension दूर हो गई और बुद्ध ने आखिर में अंगुलिमाल को बोला जा भिक्षा माँग के लेके आ, अब अंगुलिमाल भिक्षा मांगने गया।

उन्ही लोगो के घर जिनके लोगों को अंगुलिमाल ने काट दिया था। लोगों ने पत्थर मारे, खूब पत्थर मारे लहू – लुहान वापिस आया बुद्ध के पास बुद्ध ने हाथ पकड़ा स्पर्श किया बोले पीड़ा हो रही है अंगुलिमाल बोला पीड़ा तो मन को होती है।

पत्थर तो शरीर को मारे गए है मन तो आप अपने साथ ले गए अब काहे की पीड़ा अब तो तो पीड़ा चली गई। तो एक व्यक्ति 999 को मारने के बाद सन्यासी हो सकता है।  विचार बदले तो दुनिया बदल सकती है।

ये भी पढ़े

  1. कैरोली टेक्सस की कहानी Karoly Takacs Story
  2. Sacha Mitra Story In Hindi सच्चे मित्र की कहानी
  3. Samay Ka Mahatva समय का महत्व एक अद्भुत स्टोरी
  4. 100 Motivational Quotes In Hindi Best Motivational Thoughts
  5. Self Confidence in Hindi आत्मविश्वास बढ़ाने के टोटके

दोस्तों आपको एक विचार आपकी जिंदगी बदल सकता है – Motivational Story in Hindi ये पोस्ट कैसी लगी। हमें comment करके अपने विचार दे। हमें बहुत ख़ुशी होगी। और आपका 1 कमेंट हमें लिखने को  प्रोत्साहित करता और हमारा जोश बढ़ाता है। इस पोस्ट को अपने दोस्तों के साथ Share ज़रूर करें। जैसे की Facebook, Twitter, linkdin और Pinterest इत्यादि। 

Leave a Comment